Recents in Beach

संचार क्या है | सचांर का अर्थ | What is Communication | कम्युनिकेशन क्या है

संचार का अर्थ

संचार अर्थात् COMMUNICATION शब्द अंग्रेजी के 'COMMON' शब्द से बना हुआ है, जिसकी उत्पत्ति लैटिन भाषा के 'COMMUNICARE' शब्द से हुई है। संचार वह साधन है, जिसमें संगठित क्रिया द्वारा सूचनाओं, विचारों, विकल्पों एवं निर्णयों का दो या दो से अधिक व्यक्तियों के मध्य आदान-प्रदान होता है। सन्देशों का आदान-प्रदान लिखित, मौखिक अथवा सांकेतिक किसी भी प्रकार का हो सकता है। संचार का माध्यम बातचीत, विज्ञापन, रेडियो, टेलीविजन, समाचार पत्र, ई-मेल, पत्राचार आदि कुछ भी हो सकता है। सरल शब्दों में कहा जाए तो संचार का अर्थ उस प्रक्रिया से है जिसके माध्यम से हम सूचनाओं का आदान प्रदान करते हैं

संचार की प्रकृति

संचार एक ऐसी प्रक्रिया है, जिसके द्वारा व्यक्तियों, समूहों एवं विभागों के बीच सूचनाओं का आदान-प्रदान होता है। संचार में वर्तमान एवं भूतकाल की दोनों सूचनाओं को सम्मिलित किया जाता है। संचार की प्रकृति सन्देशों एवं अन्तर्सम्बन्धों के आदान-प्रदान करने की होती है। संचार लिखित, मौखिक, अभिनय आदि के द्वारा किया जा सकता है। संचार का मुख्य उद्देश्य केवल यही होता है कि सन्देश प्राप्तकर्ता 'सन्देश' को मूलरूप से तथा उसी दृष्टिकोण के अनुसार समझे, जैसा कि संचारक ने संचारित किया है।

संचार-का-अर्थ

1.  संचार विज्ञान एवं कला दोनों है (COMMUNICATION IS SCIENCE AND ART BOTH) - संचार प्रक्रिया में विज्ञान एवं कला दोनों के तत्व पाए जाते हैं, इसलिए संचार को विज्ञान एवं कला दोनों कहा जाता है।

2. संचार एक मानवीय प्रक्रिया है (COMMUNICATION IS A HUMAN PROCESS) - प्रेषक एवं प्राप्तकर्ता, सामाजिक प्राणी होते हैं और संचार की सम्पूर्ण प्रक्रिया व्यक्ति या व्यक्तियों के समूहों के मध्य ही सम्पन्न होती है, इसलिए संचार को एक मानवीय प्रक्रिया भी कहा जाता है।

3. संचार एक सार्वभौमिक प्रक्रिया है (COMMUNICATION IS A UNIVERSAL PROCESS) - संचार की सार्वभौमिकता या सर्वव्यापकता का सिद्धान्त संचार की एक विशेषता है। संचार को प्रभावी बनाने की विधियाँ एवं तकनीकें केवल व्यावसायिक संस्थाओं में ही नहीं, बल्कि सर्वव्यापक रूम में अपनाई जानी चाहिए।

4. संचार एक सामाजिक प्रक्रिया है (COMMUNICATION IS A SOCIAL PROCESS) - समाज के प्रत्येक व्यक्ति की अनिवार्य आवश्यकताओं एवं इच्छाओं की पूर्ति के लिए संचार एक यन्त्र के रूप में कार्य करता है, इसलिए इसे एक सामाजिक प्रक्रिया भी कहा जाता है।

इन्हें भी पढ़ें -

5. संचार एक जन्मजात गुण है (COMMUNICATION IS AN INBORN QUALITY) – संचार जन्ममृत्युसांस लेनाआदि की एक कला है अथवा स्वयं जीवित है। केवल शाब्दिक संचार ही मनुष्यों को संसार के अन्य प्रणियों से भिन्न तथा महत्वपूर्ण अथवा सर्वोपरि बनाता है। संचार एक जन्मजात गुण है, लेकिन बिना वैज्ञानिक आधार के यह पूर्ण नहीं हो सकता। संचार को प्रभावी बनाने के लिए सम्बन्धित ज्ञान एवं अभिव्यक्ति के कौशल का होना अनिवार्य है।

 आप योग विषयक किसी भी वीडियो को देखने के लिए चैनल पर जा सकते हैं- क्लिक करें साथ ही योग के किसी भी एग्जाम की तैयारी के लिए योग के बुक स्टोर पर जाएं- क्लिक करें

Post a Comment

0 Comments